Essay On Swachh Bharat Sundar Bharat | स्वच्छ भारत सुंदर भारत

आज के इस ब्लॉग में हम बात करेगे Swachh Bharat Sundar Bharat और आप को स्वच्छ भारत सुंदर भारत पर निबंध भी लिखना सिखाये। स्वच्छ भारत सुंदर भारत पर हम हिंदी, इंग्लिश, मराठी में लिख कर दिखाए तो चलिए देखते है की swachh bharat sundar bharat पर कैसे निबंध लिखा जाता है और यह सभी क्लास के बचो के लिए है।

Swachh Bharat Sundar Bharat | स्वच्छ भारत सुंदर भारत​

Hindi Essay On Swachh Bharat Sundar Bharat

स्वच्छ भारत सुंदर भारत

स्वच्छ भारत अभियान को पूरे भारत मैं भारत सरकार द्वारा चलाया गया। 2 अक्टूबर 2014 को हमारे देश के प्रधान मंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी द्वारा ईश अभियान की शुरुवात कि गयी।

हमारे भारत को राष्ट्रीय पिता महात्मा गांधी जी ने गुलामी से मुक्ति दिलाया उनका ये विश्वास था की पुरा भारत स्वच्छ और समृद्ध हो जाएगा।

भारत को मुक्ति दिलाने के पश्चात महात्मा गांधी जी का विश्वास ही उनका सपना बन गया। 1 अप्रैल 1999 मुख्य शुरुआत किया गया उसके बाद भारत के प्रधान मंत्री मनमोहन सिंह जी ने 2012 मैं उनके ईश अभियान का नाम चेंज कर निर्मल भारत रख दिया।

भारत सरकार 2 अक्टूबर 2014 तक मैं ईश अभियान यानी की स्वच्छ भारत अभियान को पूरे देश में शुरु किया गया।

ग्रामीण अस्त पर स्वच्छ भारत अभियान कार्य

ग्रामीणों को भारत सरकार द्वारा घर से बाहर सौच न जाए। इसकी प्रेरणा दी गइ और भारत सरकार द्वारा हर घर मैं शौचालय निर्माण के लिए धन राशि भुगतान की गई ग्रामीणों ने ईश धन राशि का उपयोग किया और भारत को स्वच्छ बनाया रहने में मुख्यत भारत सरकार की मदद की, ग्रामीण भारत सरकार को स्वच्छ भारत अभियान की सफल योजना के लिए पूर्ण समर्थन कर रहे हैं, ग्रामीण सड़क को साफ और स्वच्छ रख रहे हैं भारत सरकार की स्वच्छ भारत योजना को सफल करने का तरीका है।

गांव के स्कूल मैं शौचालय नहीं हुआ करता था परन्तु ईश अभियान के तहत हर स्कूल मैं शौचालय का निर्माण किया गया।

स्वच्छ भारत अभियान के जागरूकता के लिए छात्र स्वच्छ भारत की रेली करते हैं
हर वर्ष छात्र 2 अक्टूबर को गांधी जी की जयंती मनाते हैं और ईश अभियान की जागरूकता के लिए भाषण दिया करते हैं।

शहरी अस्तर पर स्वच्छ भारत अभियान के कार्य

शहरी अस्तर पर स्वच्छ भारत अभियान के कार्य को सक्सेसफुल बनने के लिए हमारे शहर के रोड पे जगह जगह कूड़ेदान नगरनिगम के संरक्षण मैं उपलब्ध कराया गया।

महात्मा गांधी जी के सपने को साकार बनाने में हमारे शहर के लोगों ने धूल {कचरा} शहर से साफ किया हालांकि कूड़ादान में एक हरा रंग का कूड़ादान और एक नीला रंग का कूड़ादान उपलब्ध कराया गया। और इन कूड़ेदान मैं भिन्हूंता बनाई गयी हरा रंग के कूड़ादान मैं सूखा कचरा को रखा जाता है। 

नीला रंग के कूड़ेदान में गीला कचरा रखा जाता है। नागरिक सड़कों को स्वच्छ करके, महात्मा गांधी जी के ईश सपने को पूरा करने में भारत सरकार की सहयता के करते हैं।

ग्रामीण अस्त पर स्वच्छ भारत अभियान कार्य

शहरी अस्तर पर स्वच्छ भारत अभियान के कार्य को सक्सेसफुल बनने के लिए हमारे शहर के रोड पे जगह जगह कूड़ेदान नगरनिगम के संरक्षण मैं उपलब्ध कराया गया।

महात्मा गांधी जी के सपने को साकार बनाने में हमारे शहर के लोगों ने धूल {कचरा} शहर से साफ किया हालांकि कूड़ादान में एक हरा रंग का कूड़ादान और एक नीला रंग का कूड़ादान उपलब्ध कराया गया। और इन कूड़ेदान मैं भिन्हूंता बनाई गयी हरा रंग के कूड़ादान मैं सूखा कचरा को रखा जाता है। 

नीला रंग के कूड़ेदान में गीला कचरा रखा जाता है। नागरिक सड़कों को स्वच्छ करके, महात्मा गांधी जी के ईश सपने को पूरा करने में भारत सरकार की सहयता के करते हैं।

नमामि गंगे कार्यक्रम

हम सभी ईश बात से भली भांति परचित हैं। की भारत में नंदियों को स्वच्छ करना एक बहुत बड़ी चुनौती है, नंदियों का पानी इतना जयादा असुद्ध हो चुका है। की इसे पिने से तरह तरह की बीमारियाँ फैल जाती हैं।

गंगा को स्वच्छ करने का भारत सर्कार ने कार्यरत हुई , सरकार ने नदियों को स्वच्छ करने के लिए योजना बनाई नमामि गंगे इश योगा के ताहत भारत सरकार ने गंगा नदी को स्वच्छ करने के लिए धनराशी प्रदान की भारत सरकार द्वारा नमामि गंगे कार्यक्रम के तहत गंगा की सफाई के लिए वर्ष 2016 से 2017 तक 1675 करोड़ रुपये की राशि मे उपलब्ध कराइ गयी।

Swachh Bharat Sundar Bharat Nibandh in Marathi

स्वच्छ भारत सुंदर भारत :-

भारत सरकारने संपूर्ण भारतात स्वच्छ भारत अभियान सुरू केले. या मोहिमेची सुरुवात 2 ऑक्टोबर 2014 रोजी आपल्या देशाचे पंतप्रधान माननीय नरेंद्र मोदी यांनी केली होती.

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी यांनी भारताला गुलामगिरीतून मुक्त केले आणि संपूर्ण भारत स्वच्छ आणि समृद्ध होईल, असा त्यांचा विश्वास होता.

भारत स्वतंत्र झाल्यानंतर महात्मा गांधींचा विश्वास हे त्यांचे स्वप्न बनले.
पंतप्रधान मनमोहन सिंग यांनी 2012 मध्ये निर्मल भारत या मोहिमेचे नाव बदलून 1 एप्रिल 1999 रोजी मुख्य प्रक्षेपण केले. भारत सरकारने 2 ऑक्टोबर 2014 पर्यंत देशभरात ईश अभियान (स्वच्छ भारत अभियान) सुरू केले.

गावपातळीवर स्वच्छ भारत अभियानाचे काम :-

भारत सरकारने गावकऱ्यांना घराबाहेरचा विचार न करण्यास प्रोत्साहन दिले आणि भारत सरकारने प्रत्येक घरात शौचालये बांधण्यासाठी निधी उपलब्ध करून दिला.

दिलेले पैसे गावकरी वापरतात आणि प्रामुख्याने भारत सरकारला स्वच्छ भारतासाठी मदत करतात.स्वच्छ भारत अभियानाच्या यशस्वी अंमलबजावणीसाठी ग्रामस्थ भारत सरकारला पूर्ण सहकार्य करत आहेत. भारत सरकारची स्वच्छ भारत योजना यशस्वी करा. पूर्वी गावातील शाळांमध्ये स्वच्छतागृहे नव्हती, मात्र ईश अभियानांतर्गत प्रत्येक शाळेत स्वच्छतागृहे बांधण्यात आली.
स्वच्छ भारत अभियानाबाबत जनजागृती करण्यासाठी विद्यार्थ्यांनी स्वच्छ भारत रॅली काढली
विद्यार्थी दरवर्षी 2 ऑक्टोबर रोजी गांधीजींची जयंती साजरी करतात आणि ईश अभियानाविषयी जागृतीसाठी भाषणे देतात.

सिव्हिल लाईन्सवर स्वच्छ भारत अभियानाची कृती:-

स्वच्छ भारत अभियानाचे काम नागरिक स्तरावर यशस्वी व्हावे यासाठी महापालिकेच्या संरक्षणाखाली आपल्या शहरातील रस्त्यांवर डस्टबीन उपलब्ध करून देण्यात आल्या.

महात्मा गांधींचे स्वप्न पूर्ण करण्यासाठी आमच्या शहरातील लोकांनी डस्टबिनमध्ये हिरवी डस्टबीन असतानाही शहरातील कचरा साफ केला.
निळ्या कचऱ्याची व्यवस्था करण्यात आली असून त्यात सुका कचरा स्वतंत्र हिरव्या डस्टबिनमध्ये तर ओला कचरा निळ्या डस्टबिनमध्ये ठेवण्यात आला आहे.
रस्ते स्वच्छ करून महात्मा गांधींचे स्वप्न पूर्ण करण्यासाठी नागरिक भारत सरकारला मदत करतात.

Swachh Bharat Sundar Bharat Drawing | Drawing on Swachh Bharat

Steps:-

आज आपने क्या सीखा:-

इस ब्लॉग में हमने देखा आप किस तरह से स्वच्छ भारत सुंदर भारत पर निबंध लिख सकते है अगर आप को यह पोस्ट पसंद आया होतो शेयर करना न भूले. Thanks

Leave a Comment